Education

प्रति चुंबकीय पदार्थ किसे कहते हैं परिभाषा , गुण ,उदाहरण, व्याख्या(prati chumbakeey padaarth kise kahate hain)

प्रति चुंबकीय पदार्थ किसे कहते हैं  परिभाषा , गुण ,उदाहरण, व्याख्या(prati chumbakeey padaarth kise kahate hain) :


वह पदार्थ जो चुंबकीय क्षेत्र में ले जाने पर क्षेत्र के विपरीत दिशा में थोड़ा चुम्बकित  हो जाते हैं परंतु चुंबक हटा लेने पर चुम्बकन समाप्त हो जाता है इनकी चुम्बकीय प्रवृत्ति  रिधात्मक तथा चुंबक शीलता 1 से भी कम होती है जिसे प्रतिचुम्बकीये पदार्थ कहा जाता है  जैसे :- ag, bi, cu, nacl,hg, h2o वायु आदि के
अगर हम इनको दूसरे शब्दों में बोले तो चुंबक लोहे को  चुम्बक अपनी तरफ आकर्षित करता है परंतु यह प्रति चुंबकीय पदार्थ को प्रतिकर्षित करता है 
कुछ प्रति चुंबकीय पदार्थ जैसे :- तांबा ,सीसा ,सिलिकॉन , नाइट्रोजन, पानी ,सोडियम  क्लोराइड प्रति चुम्बककत्व पदार्थ सभी पदार्थ में बिद्यमान में होता है परंतु अधिकांश पदार्थ के लिए यह इतना क्षीण होता है


अनुचुम्बकत्व एवं लौहचुम्बकीय जैसे प्रभाव  पर हावी हो जाते हैं सबसे अलग  प्रति चुंबकीय पदार्थ है चालक मतलब यह बहुत ज्यादा चालाक होता है  ऐसे धातुओं जिनको यदि बहुत ही  कम ताप पर  ठंड कर दिया जाता है तो यह पूर्ण चालकता और  पूर्ण   चुम्बकत्व  तो दोनों प्रदर्शित करती है या प्रदर्शित करने लगती है
चुंबकीय क्षेत्र रेखाएं पूर्णतया :- x=-1 एवं ur= o एक अतिचालक एक चुम्बक को प्रतिकर्षित करेगा और ( न्यूटन महोदय के अनुसार ) स्वयं इसके द्वारा प्रतिकर्षित होगा अति चालको में पूर्ण प्रतिचुम्बकत्व की घटना इसके अविष्कार के नाम पर मएसनेर प्रभाव कहलाती है 
   अनेक बिभिन्न परिस्थितियों में जैसे कि chimbkirit अधरगामी अति तीब्र 
रेलगाड़ियों को चलाने में अति चालक चुम्बकों का लाभ उढ़ाया जाता है
इंपॉर्टेंट  क्लास 12 परीक्षा के लिए
Qust :1 स्वप्रेरकत्व की  परिभाषा लिखिए


Ans : किसी कुंडली का स्वप्रेरकत्व संख्यात्मक रुप से उस प्रेरित विद्युत वाहक बल के संख्यात्मक मान के बराबर होता है जो कि उसी कुंडली में धारा परिवर्तन की दर एकांक  होने पर  उत्पन्न होता है इसका मात्रक हेनरी है
Qust : स्व प्रेरण से आप क्या समझते है 
Ans : किसी कुंडली से संबंध चुंबकीय फ्लक्स के मान में परिवर्तित होने पर उसी कुंडली में प्रेरित विद्युत वाहक बल तथा प्रेरित धारा उत्पन्न होने की घटना को स्व प्रेरण कहते हैं
यह क्वेश्चन 1,2 नंबर का है जो अकेले बहुत महत्वपूर्ण है हमारे हरे पोस्ट के नीचे आपको इंपॉर्टेंट कोचीन देखनी को मिलेंगे कभी कभी है नंबर का रहता है तो कभी 2 नंबर का रहता है लेकिन हमेशा इंपॉर्टेंट क्वेश्चन धोकर रहते हैं और उसी को नीचे हम देते हैं चाहे एक ही नंबर रहता है इंपॉर्टेंट का लेकिन हम इंपॉर्टेंट देते जरुर

अभी प्रतिचुम्बकीये  खत्म हो चुका है अब आपको इसके अगले हेडिंग को बताएंगे जो कि हर आपको अच्छे से समझ में आ जाएगा यह भी आपको इसमें कुछ भी गड़बड़ समझ में नहीं आ रहा है तो आप हमसे कांटेक्ट कर सकते हैं अगले पोस्ट में आपको बताएंगे कि  लौह चुम्बकत्व क्या होता है तो यार आपको कोई भवानी की बात नहीं है अभी यहां पर आपको अच्छे से बताने की कोशिश कर रहे हैं आप

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button